कर्फ्यू के बीच गेंहू की फसल की ब्रिकी के लिए गिद्दड़बाहा प्रशासन ने आढ़ती,किसानों से तालमेल कर बनाई रणनीति

0
320

गिद्दड़बाहा,शक्ति जिंदल

मार्किट कमेटी गिद्दड़बाहा की ओर से गेंहू फसल की खरीद को किए जा रहे प्रबंधों का गिद्दड़बाहा के एसडीएम ओम प्रकाश की ओर से जायजा लेकर खरीद कार्य के लिए अधिकारियों की डयुटिया लगाई गई। वही कोरोना वायरस को लेकर खरीद केंद्रों पर अपनी फसल लेकर पहुंचने वाले किसानों,आढ़तियों सभी के हाथ साबुन से धोने जरूरी होगे। गिद्दड़बाहा प्रशासन के अनुसार आढ़तियों,किसानों ओर लेबर को किसी किस्म की दिकते नही आने दी जाएगी। जबकि दुसरी ओर कोरोना वायरस के खतरे को लेकर किसानों ने भी प्रशासन के कार्य प्रति संतुष्टी जताते हुए कहा गया कि उनकी ओर से किए गए प्रबंधों अनुसार अपनी फसलों की कटाई करवा फिल्हाल घरों में रखी जाएगी। दुसरी ओर मार्किट कमेटी की ओर से मुख्य अनाज मंडी सहित कुल तीस खरीद केन्द्र बनाए गये इसके साथ ही बयालीस शैलरों को भी नोटीवाईड किया गया है
एक तरफ जहां कोरोना वायरस के खतरे को लेकर समूचे पंजाब अदंर कर्फ्यू लगाया गया है,वही दुसरी ओर गेंहू की कटाई का समय नजदीक आ गया है। जिसके चलते किसान,आढ़ती व अधिकारी आपस में तालमेल बनाकर फसल की खरीद को दरूसत करने की योजना तैयार करने लगे है। इस बार कर्फ्यू में ही गेंहू की फसल की खरीद होगी। जिसके लिए गिद्दड़बाहा प्रशासन की ओर से पुखता प्रबंध करने शुरू कर दिए है। गिद्दड़बाहा के एस.डी.एम ओम प्रकाश व मार्किट कमेटी सचिव प्रितपाल सिंह गिल के नेत्तव में गेहूं की फसल की खरीद संबधी सभी प्रबंध १४ अप्रैल तक मुक्कमल कर लिए जाऐगें। जिसको लेकर गिद्दड़बाहा के एस.डी.एम ओम प्रकाश की ओर से अनाज मंडी का दौरा कर खरीद प्रबंधों का जायजा लिया। इस दौरान उनकी ओर से सबंधित अधिकारियों की डयुटिया भी लगाई।
किसान भी कर्फ्यू दौरान बनाई जा रही रणनीति का कर रहे स्वागत-
इस सबंध में गिद्दड़बाहा के किसान शेर सिंह का कहना था कि उसकी ओर से इस बार ठेके पर जमीन लेकर करीब तीस एकड़ में गेंहू की बिजाई की है। उनके अनुसार आगामी दिनों में फिल्हाल उनकी ओर से फसल की कटाई करवा फसल को घरों में ही रखने का फैसला लिया गया है। उन्होने बताया कि इस समय समूचा देश कोरोना वायरस के प्रकोप से भयभीत है। इसके लिए गिद्दड़बाहा प्रशासन की ओर से जो भी नियम बनाए गए है,वे सभी उनकी ओर से भी लोकहित की खातिर अपना रहे है।
अनाज मंडी में दाखिल होने से पूर्व गेट पर ही साबुन से हाथ धोने अनिवार्य-
ई अनाज मंडी में गेहूं खरीद प्रबंधों का जायजा लेने पहुंचे एस.डी.एम. ओम प्रकाश ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि जो भी व्यक्ति अनाज मंडी में दाखिल होगा उसे गेट पर ही साबुन से हाथा धोने अनिवार्य होगें, जबकि इस बात को पूर्णतय लागू करने के लिए प्रशासन द्वारा स्वास्थ्य प्रोटोकोल अधिकारियों की नियुक्ति भी की गई है। उन्होंने बताया कि प्रशासन द्वारा किसानों, आढतियों और लेबर को कोई भी समस्या पेश नहीं आने दी जाएगी।
खरीद केन्द्रों के अलावा ४२ शैलरों को भी नोटीवाईड किया गया- मार्किट कमेटी सचिव
खरीद प्रबंधों संबधी जानकारी देते हुए मार्कीट कमेटी के सचिव प्रितपाल सिंह गिल ने बताया कि मुख्य अनाज मंडी सहित कुल ३० खरीद केन्द्र बनाए गये हैं। उन्होंने बताया कि इन खरीद केन्द्रों के अलावा इलाके के ४२ शैलरों को भी नोटीवाईड किया गया है जहां भी गेहूं की खरीद होगी। उन्होंने बताया कि दोनों ही जगह ३० गुणा ३० जगह को मार्क किया गया है जिसमें एक समय में एक ही ट्राली उतरेगी और उसी में गेहूं की सफाई के लिए पंखा लगेगा, वहीं गेहूं की तुलाई होगी और किसान भी वहीं ही बैठेगा। इस मौके श्री गिल ने स्पष्ट किया कि एक पास पर एक की ट्राली गेहूं माननीय होगी और उसका वजन टारगेट ५० किवंटल रखा गया है परन्तु किसान ट्राली के अनुसार इससे अधिक या कम गेहूं भी ला सकेगा। उन्होंने किसानों से अपील की कि वह धैर्य से काम लें और जल्दबाजी में बिना पास के गेहं की कोई भी ट्राली लेकर खरीद केन्द्रों या नोटिफाईड शैलर में न पहुंचे। उन्होंने बताया कि यदि कोई किसान बिना विभागीय पास के गेहूं लाता पकड़ा गया तो उसके विरूद्ध नियमों अनुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। खरीद केन्द्रों पर केवल पास द्वारा ही किसान गेहूं ला सकेगे और रोजाना की मांग के अनुसार ही पास की डिमांड मंडी बोर्ड से की जाएगी। उन्होंने बताया कि पहले की तरह की अलग अलग खरीद एजैंसियों के इंस्पैटर संबधित खरीद केन्द्रों व नोटिफाईड शैलरों से गेहूं की खरीद करेगें और रोजाना आए हुए गेहूं की लि3िटंग उसी दिन करने के लिए भी प्रशासन द्वारा रणनीति बनाई गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here