केंद्र बिना भेदभाव सूबों की मदद करन का अपना संवैधानिक फर्ज पूरा करे -मनप्रीत सिंह बादल

0
315

बंठिडा,धीरज गर्ग
अंतरराष्ट्रीय मज़दूर दिवस मौके पंजाब के वित्त मंत्री स: मनप्रीत सिंह बादल ने देश निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले हमारे कामगारों के योगदान को नमन करते यहाँ पंचायत भवन में तिरंगा लहरा कर केंद्र सरकार तक पंजाब की हकों माँगों की आवाज़ बुलंद की।
स: मनप्रीत सिंह बादल ने इस मौके कहा कि आज हमारा मुल्क तरक्की के जिस स्थान और है उस में हमारे कामगार का अहम योगदान है। देश की उनतीस की इबारत इतना कामगारों की मेहनत के पसीने साथ लिखी गई है। उन्हों ने कहा कि इस दिन सारा मुल्क अपने कामगार को सलाम करता है। उन्हों ने कहा आज जब हम करोना की महामारी के साथ जूझ रहे हैं तो हमारे कामगारों का समाज प्रति योगदान अब ओर भी और ज्यादा प्रत्यक्ष ढिंढोरे समाज के सामने आया है।
इस मौके पत्रकारों के सवालों का जवाब देते वित्त मंत्री स: मनप्रीत सिंह बादल ने फिर दुहरायआ कि केंद्र सरकार से कोविड 19 बीमारी के मुकाबले में के लिए सीधे तौर पर पंजाब को केवल 71 करोड़ रुपए की मदद ही मिली है जब कि ओर जो रकमों प्राप्त हुई हैं वह पंजाब राज का अपना हक था जो केंद्र की तरफ बकाया था और यह रकमों कोविड बीमारी के न आने पर भी पंजाब को मिलाप था।
वित्त मंत्री ने कहा कि पंजाब स्व मान के लिए जाना जाता है और पंजाबियों ने देश की तरक्की में हर क्षेत्र में अगुआ भूमिका निभाई है। उन्हों ने कहा कि संघी ढांचो में यह केंद्र सरकार का फर्ज बनता है कि वह किसी भी अंदरूनी या बाहरी आफ़त समय राज्यों की मदद करे।उन्हों ने कहा कि यह भारत सरकार की संवैधानिक ज़िम्मेदारी बनती है।
स: मनप्रीत सिंह बादल ने कहा कि जब से कोविड 19 बीमारी का संकट पैदा हुआ है केंद्र का पंजाब के साथ बेरुख़ी वाला रवैया रहा है जो कि पंजाब के लिए बरदास्त करना कठिन है।पंजाब की बाँट से ले कर हर मुस्किल दौर में पंजाब विजेता हो कर निकला है और ताज़ा कोविड संकट में से भी पंजाब मज़बूती के साथ विजेता हो कर निकलेगा।
वित्त मंत्री ने यह भी सप्पशट किया कि पंजाब में जो यात्री, विद्यार्थी, मज़दूर बाहर के राज्यों से आए हैं, उन की देखभाल के लिए सभी तय नियमों की पालना की जा रही है और सभी के टैस्ट करवाए जा रहे हैं और सब को एकांतवास में रखा जा रहा है। उन्हों ने कहा कि कि इस बीमारी से पीडित होना कोई ताना नहीं है बल्कि यह किसी को भी हो सकती है और ऐसे लोगों के साथ भेदभाव नहीं किया जाना चाहिए।
वित्त मंत्री ने इस मौके बठिंडा के लोगों की तरफ से कर्फ़्यू दौरान दिए दिए जा रहे सहयोग के लिए उन का धन्यवाद किया है।
इस मौके स: जैजीत सिंह ज़ोहल, श्री केके अग्रवाल, श्री अरुण वधावन, श्री जगरूप सिंह गिल, श्री असोक प्रधान, श्री पवन मानी, स: टहल सिंह संधू, श्री राजन गर्ग, श्री बलजिन्दर ठेकेदार, मास्टर हरमन्दर सिंह, स: बलजीत सिंह, श्री राज नंबरदार आदि भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here