कोरोना वायरस को लेकर लगाए गए कर्फ्यू के बीच मंगलवार को जिला प्रशासन की टीम भारत-पाक अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर से सटे गांव

0
746

फिरोजपुर,हीरा लाल

कोरोना वायरस को लेकर लगाए गए कर्फ्यू के बीच मंगलवार को जिला प्रशासन की टीम भारत-पाक अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर से सटे गांव में गरीब व जरूरतमंद लोगों तक सूखे राशन के पैकेट लेकर पहुंची और करीब 150 परिवारों को राशन वितरित किया। नायब तहसीलदार सुखचरण सिंह चन्नी और वे अहेड वैल्फेयर सोसाइटी के पदाधिकारी राहुल कक्कड़ की अगुवाई में ये टीम लोगों के लिए राशन लेकर गांव गट्टी रहीमे के और जैलोके में पहुंची। ये दोनों गांव जीरो लाइन के बिल्कुल समीप हैं और सतलुज दरिया से भी सटे हुए हैं।

विस्तृत जानकारी देते हुए नायब तहसीलदार सुखचरण सिंह चन्नी ने बताया कि डिप्टी कमिश्नर श्री कुलवंत सिंह के निर्देश पर बॉर्डर से सटे गांवों में लोगों तक जरूरी वस्तुओं की सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए खास मुहिम चलाई गई है, जिसके चलते एक-एक करके इन सभी गांवों को कवर किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आज 150 जरूरतमंद परिवारों को राशन वितरण किया गया है। इसके अलावा हमारी टीमें दिनरात मेहनत कर रही हैं और संकट की इस स्थिति से राशन व खाने के लिए जहां से भी कॉल आती है, वहां पर मदद पहुंचाई जाती है।

डिप्टी कमिश्नर श्री कुलवंत सिंह ने बताया कि जिला प्रशासन की तरफ से लोगों तक राशन व खाना पहुंचाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही। हमारा लक्ष्य गरीब व जरूरतमंद लोगों, खासकर दिहाड़ी करने वाले गरीब लोगों तक मदद पहुंचाना है। उन्होंने बताया कि जरूरी वस्तुओं की सप्लाई पहले दिन ही शुरू करवा दी गई थी, जोकि अब काफी बेहतर हो चुकी है। लोगों के घरों तक रेहड़ी वाले और ग्रोसरी वाले अपना सामान पहुंचा रहे हैं। वहीं, गरीब व जरूरतमंद लोगों तक सूखा राशन और खाना पहुंचाया जा रहा है, जिसमें समाज सेवी व धार्मिक संगठनों का अहम योगदान है। इस कार्य में 70 समाज सेवी संगठन साथ जोड़े गए हैं, जोकि अब तक हजारों की तादाद में राशन व खाने के पैकेट वितरित कर चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here