कोरोना वायरस: भारत में 166 लोगों की मौत, विश्व में संक्रमण के मामले बढ़कर 15 लाख के क़रीब

0
897

नई दिल्ली

कोरोना वायरस (कोविड-19) के कारण देश में मरने वाले लोगों की संख्या 166 पर पहुंच गई है और संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 5,734 हो गई है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अब भी 5,095 लोग संक्रमित हैं, जबकि 472 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है तथा एक व्यक्ति देश छोड़कर चला गया है.

मंत्रालय ने बताया कि देशभर में पिछले 24 घंटे में 17 और लोगों की मौत हुई है.

उसने बताया कि इन 24 घंटों में आठ लोगों की मौत महाराष्ट्र में, तीन की गुजरात में, दो की जम्मू कश्मीर में और एक-एक व्यक्ति की मौत पंजाब, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक तथा तमिलनाडु में हुई है.

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से सबसे अधिक 72 लोगों की मौत हुई है. इसके बाद गुजरात में 16 लोगों की, मध्य प्रदेश में 13 और दिल्ली में नौ लोगों की मौत हुई. पंजाब तथा तमिलनाडु में आठ-आठ लोगों की मौत हुई जबकि तेलंगाना में सात लोगों ने जान गंवाई.

पश्चिम बंगाल और कर्नाटक में पांच-पांच लोगों की मौत हुई. आंध्र प्रदेश, जम्मू कश्मीर तथा उत्तर प्रदेश में चार-चार लोगों ने जान गंवाई, जबकि हरियाणा और राजस्थान में तीन-तीन लोगों की मौत हुई.

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, केरल में दो लोगों ने जान गंवाई. बिहार, हिमाचल प्रदेश और ओडिशा में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई.

बुधवार शाम तक देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण मरने वाले लोगों की संख्या 149 थी.

हालांकि विभिन्न राज्यों से प्राप्त आंकड़ों की समाचार एजेंसी पीटीआई की ओर से जुटाए गए आंकड़ों के अनुसार बुधवार देर शाम तक कम से कम 181 लोगों की मौत हुई.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों और विभिन्न राज्यों के आंकड़ों में अंतर है जिसके पीछे अधिकारियों ने अलग-अलग राज्यों को मामले सौंपने में प्रक्रियागत देरी की वजह बताई है.

सुबह आठ बजे तक मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण के सबसे अधिक 1,135 मामले महाराष्ट्र से आए हैं. इसके बाद तमिलनाडु से 738 और दिल्ली से 669 मामले सामने आए.

तेलंगाना में मामले बढ़कर 427 हो गए जबकि राजस्थान में 381 लोग संक्रमित पाए गए हैं.

उत्तर प्रदेश में 361 लोग संक्रमण की चपेट में आए हैं जबकि आंध्र प्रदेश में 348 मामले आए हैं. केरल में कोविड-19 के 345 मामले आए हैं.

मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 229 हो गए जबकि कर्नाटक में 181 और गुजरात में 179 मामले सामने आए.

जम्मू कश्मीर में कोरोना वायरस के 158 मामले सामने आए हैं, हरियाणा में 147, पश्चिम बंगाल में 103 और पंजाब में 101 मामले सामने आए हैं. ओडिशा में कोरोना वायरस के 42 मामले दर्ज किए गए.

बिहार में इस वैश्विक महामारी से 38 लोग संक्रमित हैं जबकि उत्तराखंड में 33 मरीज और असम में 28 मरीज हैं. चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश से 18-18 मामले सामने आए हैं जबकि लद्दाख में 14 लोग संक्रमित पाए गए हैं.

अंडमान और निकोबार द्वीप से 11 मामले सामने आए हैं, जबकि छत्तीसगढ़ से 10 मामले सामने आए हैं. गोवा में कोविड-19 से सात लोग संक्रमित पाए गए हैं जबकि पुदुचेरी में पांच लोग संक्रमित पाए गए हैं.

झारखंड में संक्रमण में चार मामले दर्ज किए गए जबकि मणिपुर, त्रिपुरा, मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश में एक-एक मामला सामने आया.

इधर, दुनियाभर में कोरोना वायरस के मामले 15 लाख के करीब पहुंच चुके हैं.

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले वर्ष दिसंबर में चीन में इस विषाणु के सामने आने के बाद से 192 देशों और क्षेत्रों में 1,484,811 संक्रमित लोगों में से 88,538 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 329,876 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं.

स्पेन में कोरोना वायरस से मरने वालों की कुल संख्या बृहस्पतिवार तक 14,792 हो गई, जबकि संक्रमण के मामले 148,220 पहुंच गए हैं. यहां 48,021 लोग इससे ठीक हो चुके हैं.

कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित इटली में अब तक 17,669 लोगों की मौतें हो चुकी है, 139,422 लोग संक्रमित पाए गए हैं. इनमें से 26,491 लोग ठीक हो चुके हैं.

चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को बताया कि दो और लोगों की मौत होने से देश में मृतकों की कुल संख्या 3,335 पर पहुंच गई है. देश में संक्रमित लोगों की संख्या 81,865 पर पहुंच गई है.

अमेरिका में कोरोना वायरस से 11 भारतीयों की मौत

अमेरिका में कोविड-19 से कम से कम 11 भारतीयों की मौत हो गई है, जबकि 16 और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण अमेरिका में अब तक 14,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि चार लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं.

अमेरिका में घातक संक्रमण से जिन भारतीय नागरिकों की मौत हुई है, वे सभी पुरुष हैं, जिनमें से दस न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी क्षेत्र से हैं. मृतकों में से चार न्यूयॉर्क शहर में टैक्सी चालक बताए जा रहे हैं.

फ्लोरिडा में एक भारतीय नागरिक की कथित तौर पर कोरोना वायरस के कारण मौत हो गई. कैलिफोर्निया और टेक्सास राज्यों में अधिकारी कुछ अन्य लोगों की राष्ट्रीयता का भी पता लगा रहे हैं.

इसके अलावा चार महिलाओं सहित 16 भारतीय को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है और सभी पृथक वास में रह रहे हैं. उनमें से आठ न्यूयॉर्क से, तीन न्यूजर्सी से और बाकी टेक्सास और कैलिफोर्निया जैसे राज्यों से हैं.

ये भारतीय उत्तराखंड, महाराष्ट्र, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों के रहने वाले हैं. कोविड-19 से प्रभावित भारतीय नागरिकों और छात्रों को आवश्यक सहायता प्रदान करने के लिए भारतीय दूतावास और अमेरिका भर में स्थित वाणिज्य दूतावास स्थानीय अधिकारियों और भारतीय-अमेरिकी संगठनों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं.

ब्रिटेन में कोरोना वायरस से रिकॉर्ड 938 लोगों की मौत

लंदन: ब्रिटेन ने बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण से रिकॉर्ड 938 लोगों की मौत की जानकारी दी है और इसी के साथ संक्रमण से मरने वालों की संख्या 7000 को पार कर गई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने ट्वीट किया, ‘सात अप्रैल शाम पांच बजे तक अस्पताल में भर्ती 7,097 लोगों की दुखद मौत हो गई.’

देश में बृहस्पतिवार तक कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 61,474 पहुंच गए हैं, जबकि यहां 345 लोग इससे ठीक हो चुके हैं.

उधर, वायरस से संक्रमित ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की हालत लगातार दूसरी रात भी लंदन के एक अस्पताल के आईसीयू में बिताने के बाद स्थिर है और उन पर इलाज का असर हो रहा है.

10 डाउनिंग स्ट्रीट के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘प्रधानमंत्री की हालत स्थिर है और उन पर इलाज का असर हो रहा है.’ प्रवक्ता के अनुसार, ‘सेंट थॉमस अस्पताल के आईसीयू में उनका इलाज चल रहा है. वह प्रसन्नचित्त हैं.’

ताजा जानकारी के अनुसार, जॉनसन का ‘स्टैंडर्ड ऑक्सीजन उपचार’ हो रहा है और वह बिना किसी मदद के सांस ले रहे हैं. उन्हें एक सप्ताह पहले कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद रविवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था और सोमवार को हालत बिगड़ने के बाद शाम को उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया.

10 डाउनिंग स्ट्रीट के मुताबिक वह पूरे समय सचेत हैं और उन्हें निमोनिया की शिकायत नहीं है.

न्यूयॉर्क में कोरोना से एक दिन में 779 लोगों की मौत

न्यूयॉर्क: अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण एक दिन में 779 लोगों की मौत हो गई. एक दिन में मौत का यह सर्वाधिक आंकड़ा है.

न्यूयार्क के गवर्नर एंड्र्यू कुओमो ने इसकी जानकारी दी. कुओमो ने आगाह किया है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है.

कोरोना वायरस पर नियमित ब्रीफिंग में उन्होंने बुधवार को कहा, दुखद समाचार केवल दुखद ही नहीं है. दुखद समाचार असल में भयानक है. मरने वालों की संख्या एक दिन में अब तक सबसे अधिक है.

उन्होंने कहा कि यह संख्या 779 तक पहुंच गई है. आप मरने वालों की संख्या देखेंगे तो यह धीरे-धीरे बढ़ रही है और यह नई ऊंचाई तक पहुंच गई है. मंगलवार को न्यूयार्क में कोरोना वायरस से 731 लोगों की मौत हो गई थी, जो उस दिन तक सर्वाधिक थी.

कुओमो ने कहा कि 9-11 के आतंकवादी हमले में 2753 लोग मारे गए थे जबकि कोरोना वायरस के कारण न्यूयार्क में 6268 लोगों की मौत हो चुकी है.

फ्रांस में 24 घंटे के दौरान 541 लोगों की मौत

फ्रांस में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 से बुधवार को 541 और लोगों की मौत हो गई. इसके साथ ही देश में इस वैश्विक महामारी से मरने वाले लोगों की संख्या 10,869 पर पहुंच गई.

शीर्ष स्वास्थ्य अधिकारी जेरोम सैलोमन ने पत्रकारों को बताया कि अब 7,148 लोग आईसीयू में हैं. उन्होंने बताया कि तकनीकी खामी के कारण नर्सिंग होम्स से बुधवार को दैनिक आंकड़ा उपलब्ध नहीं हो पाया जिसका मतलब है कि मरने वाले लोगों की संख्या अभी स्पष्ट नहीं है.

फ्रांस में इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए 17 मार्च से लॉकडाउन है. केवल अनिवार्य यात्राओं को ही मंजूरी दी जा रही है.

सैलोमन ने बताया कि हाल के दिनों में विषाणु के फैलने की गति धीमी हुई है. उन्होंने बताया कि इसके पीछे की वजह व्यापक पैमाने पर बंद हो सकता है.

इस बीच फ्रांस के राष्ट्रपति कार्यालय ने बुधवार को कहा कि फ्रांस कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए बंद की अवधि और बढ़ाएगा. इसके साथ ही राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों अगले सप्ताह फिर राष्ट्र को संबोधित करेंगे.

ईरान में अब तक करीब 4000 लोगों की मौत

तेहरान: ईरान में बुधवार को कोरोना वायरस के संक्रमण से 121 और लोगों की मौत होने के साथ ही देश में इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 3993 हो गई.

सरकारी संवाद समिति इरना ने स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता कियानौश जहांपुर के हवाले से कहा कि ईरान में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 संक्रमण के 1997 के नए मामले सामने आये हैं. इसी के साथ ही देश में इस महामारी के मामले बढ़कर 64,586 हो गए.

आधिकारिक आंकड़े के अनुसार, ईरान पश्चिम एशिया में अब तक इस महामारी से बुरी तरह प्रभावित देश है. वहां 19 फरवरी को पहला मामला आया था. वैसे अन्य देशों में ऐसी अटकलें हैं कि ईरान में इस संक्रमण से हुई मौत और उसकी चपेट में आने वालों की संख्या अधिक हो सकती है.

बुधवार को जहांपुर ने बताया कि 3,956 मरीज गंभीर हालत में हैं जबकि 29,812 स्वस्थ हो चुके हैं. इरना के अनुसार, ईरान ने अब तक कोविड-19 के 220,975 परीक्षण किए हैं. कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए ईरान ने गैर जरूरी कारोबारों को बंद कर दिया है और एक शहर से दूसरे शहर में जाने पर रोक लगा दी है, लेकिन उसने लॉकडाउन नहीं लगाया है.

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई का दूसरा दौर शनिवार से शुरू होगा और यह अधिक मुश्किल भरा होगा.

जापान के बाद इथियोपिया ने आपातकाल की घोषणा की

अदीस अबाबा: जापान के बाद अफ्रीकी देश इथियोपिया ने बुधवार को कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए आपातकाल की घोषणा कर दी.

देश में अब तक कोरोना वायरस से 52 लोग संक्रमित हुए हैं और दो लोगों की मौत हो चुकी है.

प्रधानमंत्री अबिय अहमद के 2018 में सत्ता में आने के बाद से उनके शासनकाल में देश में यह पहला आपातकाल है. वह अपने देश में राजनीतिक स्वतंत्रताओं का विस्तार करने में योगदान के लिए पिछले साल का नोबेल शांति पुरस्कार प्राप्त कर चुके हैं.

अहमद ने एक बयान में कहा, ‘कोरोना वायरस महामारी बदतर होती जा रही है, इसलिए सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 93 के तहत आपातकाल की घोषणा की है.’

उन्होंने कहा, ‘मैं सभी का आह्वान करता हूं कि सरकारी संस्थाओं और अन्य ऐसे लोगों के साथ मिलकर खड़े हों जो इस समस्या से उबारने की कोशिश कर रहे हैं.’

इससे पहले जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों में तेजी से इजाफा होने के बाद बीते सात अप्रैल को टोक्यो, ओसाका और देश के पांच अन्य हिस्सों में एक महीने के आपातकाल की घोषणा की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here