जब आइसोलेशन सैंटर की चादरों धोने के लिए आगे आए ऐस.डी.ऐम. और तहसीलदार नौजवान वैलफेयर सोसायटी के वंलटियरों ने भी तोड़ी मित्थ

0
946

बठिंडा,धीरज गर्ग
अज्ज जब पूरी दुनिया में करोना का कहर बर्ष रहा है और अपने भी साथ छोड़ते जाते हैं तो बठिंडा के ऐस.डी.ऐम. और तहसीलदार ने यहाँ के आइसोलेशन वार्ड में लगे बैड की चादरों और ओर समान धोने के लिए आगे आ कर समाज प्रति अपनी ज़िम्मेदारी की मिशाल पेश की। इस कार्य में नौजवान वैलफेयर सोसायटी के वालंटियर भी करोना प्रति बनीं सामाजिक मानूँ तोड़ने के लिए आगे आए और इस काम में सहयोग किया।


यहाँ के मैरीटोरियस स्कूल में बने आइसोलेशन वार्ड में जहाँ पिछले दिनों कुछ लोगों को रखा गया था वहां लगाए बैंडों की चादरों, सिरहाण्यों के कवर और ओर कपड़े धोने की समस्या पैदा हो गई थी क्योंकि लोगों में डर थे कि यहाँ जो लोग रह कर गए हैं कहीं उन कारण इतना कपड़ों को धोने समय उन पर ही वायरस का हमला न हो जाये।


इस सम्बन्धित नौजवान वैलफेयर सोसायटी के नेता श्री सोनूं महेश्वरी ने बताया कि इस सम्बन्धित स्टाफ के मन में से डर निकालने के लिए बठिंडा के ऐस.डी.ऐम. स: अमरिन्दर सिंह टिवाना और तहसीलदार स: सुखबीर सिंह बराड़ आगे आए तो सब को होंसलें हुआ कि यदि सभी सावधानियॉ इस्तेमाल करीं, जाएँ तो करोना मरीजों के साथ जुड़ी वस्तुओं की सफ़ाई की जा सकती है। उन्हों ने कहा आइसोलेशन वार्ड की सफ़ाई और चादरों धोने के कार्य में उन की संस्था ने भी सहयोग किया और इस दौरान डाक्टरी सलाह अनुसार सभी सावधानियॉ इस्तेमाल करीं, गई।
श्री महेश्वरी ने बताया कि जब भी किसी शकी के नमूने लिए जाते हैं तो उन को आइसोलेशन वार्ड में रखा जाता है जिस दौरान ऐसे लोगों के खाने पाने और ओर ज़रूरी ज़रूरतों का प्रबंध भी बठिंडा के ऐस.डी.ऐम. अमरिन्दर सिंह टिवाना और तहसीलदार स: सुखबीर सिघ बराड़ की यह जोड़ी ही करती है और उन की संस्था भी सहयोग करती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here