डा. धालीवाल बने पंजाब अनएडिड टैकनिकल इंस्टीच्यूशनज़ एसो. के प्रधान

0
1022

कपिल, बठिंडा । चंडीगढ़ में पंजाब अनएडिड टैकनिकल इंस्टीट्यूट ऐसोसीएशन की जरनल बाडी की मीटिंग हुई। इस मीटिंग में नई कार्यकारिणी समिति गठित करने बारे विचार किया गया। इसके बाद सर्वसम्मति से डा. जेएस धालीवाल (बीआईएस ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़) को मुख्य सरप्रस्त, रमन‌ भल्ला (अमन भल्ला ग्रुप आफ इंस्टिट्यूटस), इंज. एस के पुंज (श्री सांईं ग्रप आफ इंस्टिट्यूटस), सुखदेव सिंगला ( इंडो ग्लोबल ग्रुप आफ कालजिज़), अवतार सिंह (सुखमनी ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़), डा. मधु चितकारा ( चितकारा ग्रुप), डा. सतनाम सिंह संधु ( चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी) गुरविन्दर सिंह बहारा (बहारा ग्रुप आफ इंस्टिट्यूटस), अशोक मित्तल (लवली प्रोफैशनल यूनिवर्सिटी), डा. जोरा सिंह (देश भगत यूनिवर्सिटी), चरनजीत सिंह (सीटी ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़), हुक्म चंद बांसल ( आरआईएमटी यूनिवर्सिटी) और डा. रोहन सच्चदेवा (लाला लाजपत राय ग्रुप आफ इंस्टीच्यूटस) को सरप्रस्त, डा. गुरमीत सिंह धालीवाल (बाबा फऱीद ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़) को प्रधान, मनजीत सिंह (दोआबा ग्रुप आफ कालजिज़), रखवाला सिंह धालीवाल (चंडीगढ़ ग्रुप आफ कालजिज़), शविन्दर सिंह गिल्ल (सुखजिन्दरा ग्रुप आफ इंस्टिट्यूटस), गुरतेज सिंह बराड़ (आकलिया ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़) और दविन्दरपाल सिंह (देश भक्त ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़) को सीनियर वाइस प्रधान, हरिन्दर (कूइस्ट ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़) को जरनल सचिव और विपन शर्मा (सत्यम ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़) और नरेश नागपाल ( श्री सांईं ग्रुप आफ इंस्टीच्यूटस) को मीडिया कोआरडीनेटर और रजिन्दर सिंह धनोआ को आनरेरी सैक्ट्री चुना गया। पंजाब के सभी जिलों में बेहतर तालमेल के लिए पंजाब को पांच ज़ोनों में बांटा गया और हर एक सीनियर उप प्रधान को एक -एक जोन का इंचार्ज बनाया गया। यह भी तय किया गया कि हर ज़ोन इंचार्ज की तरफ से पंजाब के समूह जिलों के कोआरडीनेटर बनाए जाएंगे, जो कि कार्यकारिणी के मैंबर होंगे । नव -नियुक्त प्रधान डा. गुरमीत सिंह धालीवाल की तरफ से एसो. के मुख्य सरप्रस्त डा. जेएस धालीवाल और समूह सदस्यों का उनको प्रधान बनाने के लिए धन्यवाद किया। डा. गुरमीत सिंह धालीवाल ने बताया कि समूह सदस्यों ने इस बात की सहमति दी है कि एसो. तकनीकी शिक्षा के साथ जुड़ी पंजाब अनएडिड कालेज ऐसोसीएशन (पूका), ऐसोसीएशन आफ पोलीटैकनीकल कालजिज़, पंजाब और पंजाब आईटीआई एसोसीएशन के साथ मिल कर राज्य में तकनीकी शिक्षा के स्तर और ऊँचा उठाने के लिए यत्न करेगी। उन्होंनेे कहा कि एसो. एक ऐसा मंच तैयार करेगी जहाँ कि सरकार, संस्थायों और इंडस्ट्री इकठ्ठा हो कर तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में काम कर सकें। इसके अंतर्गत संस्थायों का इंडस्ट्री के साथ तालमेल में विस्तार किया जायेगा जिससे इंडस्ट्री की ज़रूरत मुताबिक तकनीकी युवा तैयार किये जा सकें । सीनियर वाइस प्रधान मनजीत सिंह (दोआबा ग्रुप आफ कालजिज़) ने कहा कि पोस्ट मैट्कि सकालरशिप स्कीम के आडिट का लेखा जोखा पूरा करके 2016 -17 तक के बकाया फंड के साथ-साथ 2017 -18 और 2018 -19 के फंड भी जल्दी रिलीज करवाए जाएंगे। आडिट के दौरान ऐतराजय़ोग्य पाई गई फ़ाल्तू रकम और 9 प्रतिशत ब्याज लगाया गया है वह ब्याज कालेजों को वापस दिलाने के लिए एसो. हर संभव यत्न करेगी । सीनियर वाइस प्रधान स. रछपाल सिंह धालीवाल (चंडीगढ़ ग्रुप आफ कालजिज़) ने यूनिवर्सिटी और बोर्ड के साथ संबंधित कालेजों को पेश आने वाली समस्याओं पर चर्चा की और कहा कि इन समस्याओं के हल ढूँढने के लिए योजनाबंदी और लगातार कार्य किया जाए। सीनियर वाइस प्रधान शविन्दर सिंह गिल (सुखजिन्दरा ग्रुप आफ इंस्टिट्यूटस) ने बाढ़ पीडित क्षेत्रों की सहायता के लिए सभी संस्थायों की तरफ से सहयोग करने के उदेश्य बारे विचार सांझे किये। सीनियर वाइस प्रधान, स. गुरतेज सिंह बराड़ (आकलिया ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़) ने पलेसमेंट और अकादमिक को संयुक्त रूप में बेहतर बनाने की ज़रूरत पर जोर दिया । सीनियर वाइस प्रधान दविन्दरपाल सिंह (देश भक्त ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़) ने कहा कि कालेजों में दाखि़लों की आखिरी तारीख़ बढ़ाने के लिए माननीय सुप्रीम कोर्ट में केस फ़ाईल किया जायेगा । जरनल सचिव हरिन्दर (कूइस्ट ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़) और मीडिया कोआरडीनेटर विपन शर्मा (सत्यम ग्रुप आफ इंस्टीच्यूशनज़) ने कहा कि पिछले समय में देखने में आया है कि पोस्ट मैट्कि सकालरशिप न रिलीज होने करके बैंकों की तरफ से ऋणी तकनीकी संस्थायों के खाते एनपीए हो गए हैं। ऐसीं कुछ संस्थायों पर बैंकों की तरफ से कब्ज़ा करने की कोशिश की गई है इस का एसोसिएशन विरोध करेगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here