दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान की ओर से गगन नगर ग्यासपुरा में सात दिवसीय श्रीमद्देवीभागवत महापुराण

0
1022

लुधियाना
दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान की ओर से गगन नगर ग्यासपुरा में सात दिवसीय श्रीमद्देवीभागवत महापुराण की पावन पुनीत कथा का भव्य आयोजन किया गया। जिसके आज छठे दिवस की शुरुआत यजमान चंद्र भान चौहान (डायरेक्टर प्रीच इंटरनेशनल कान्वेंट स्कूल)सपरिवार ,राजेश वोहरा (हैप्पी जेवेलर्स),सुरिंदर कुमार लवली, सुखविंदर राणा,विमल कुमार चौहान सपरिवार द्वारा ज्योति प्रज्वलित कर गई गयी।

श्री श्याम सुंदर मल्होत्रा (सीनियर डिप्टी मेयर लुधियाना),हरजिंदर कौर,मनिंदर सिंह जी द्वारा ज्योति प्रज्वलित की गई। श्री आशुतोष महाराज जी की शिष्या ‘‘कथाव्यास’’ साध्वी सुश्री भद्रा भारती जी ने रक्त बीज एवं माँ भगवती के विषय में बताते हुए कहा कि रक्त बीज एक ऐसा दैत्य था जिसे वरदान मिला था कि उसे कोई भी मार नहीं सकता और जहां भी उसके रक्त की बूंद गिरती थी वहां एक ओर रक्त बीज उत्पन्न हो जाता था। यह देख सभी देवता मां को पुकारते हैं कि मां तुम्हेंही ऐसे दैत्य का विनाश करने के लिए आना पड़ेगा। माँ भगवती का अवतार होता है। अपने हाथ में खप्पर पकड़ा हुआ है ताकि जहां भी रक्त बीज का रक्त गिरता था वहां पर माँ खप्पर आगे कर देती थी ताकि अन्य रक्त बीज उत्पन्न न हो सके। इस प्रकार माँ ने उस अत्यचारी दैत्य का वध कर दिया।


साध्वी जी ने बताया कि यह रक्त बीज ही है जो आज समाज में अत्याचार, पापाचार, अराजकता, अनीति, अनाचार के रूप में दिन-प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। जिससे समाज में अन्य और कुरीतियां बढ़ रही हैं, जिन्हें जड़ से मिटाने में कोई आगे नहीं आ रहा। आज समाज में बढ़ रहे आतंकवाद को खत्म करने के लिए कितने ही कानून लागू किए गए हैं किन्तु दंड के बावजूद अपराध रक्त बीज की तरह और बढ़ता जा रहा है। क्या केवल दंड के द्वारा व्यक्ति में परिवर्तन संभव है? नहीं ।आज भी संसार में माँ भगवती की जरूरत है जो हमारे घट में प्रकट हो कर अन्त: करण के रक्त बीज का विनाश करे जिससे समस्त संसार सुख चैन की सांस ले सके। साध्वी जी ने बताया कि इस अपराध के उन्मूलन के लिए अध्यात्म की शरण में जाना ही एक मात्र उपाय है। ब्रह्मज्ञान रूपी सूर्य के उदय होने पर अपराधिक भावनाओं का तम विलीन हो जाता है। भीतर सदाचार जागने लगता है और धर्म का प्रकाश चहुँ दिशाओं में प्रकाशित होने लगता है ।माँ की पावन आरती में बी एस सन्स से मंजीत सिंह,जीवन गुप्ता ,अश्वनी बहल ,राम गुप्ता जी,दविंदर बहल, श्री राम सेवा समिति पीपल चौक ,परमजीत कौर जीरा आदि भक्त हाजिर हुए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here