पुरानी अनाज मंडी की दुकान पर दिनदहाड़े वारदात, चावल कारोबारी के पुत्र को मारी गोलियां

0
516

मोगा

यहां बदमाशाें के हाैसले बुलंद हैं। इन्हाेंने शुक्रवार सायं काराेबारी तबके में एक बार फिर खाैफ पैदा करने का प्रयास किया। शहर के बीचों बीच स्थित पुरानी अनाज मंडी में चावलों की दुकान पर अाकर 3 बदमाशाें ने रंगदारी मांगी और नहीं मिलने पर कारोबारी पुत्र को गोलियां मार दीं। वे पैदल आए थे। शहरी की पुरानी अनाज मंडी में रामपाल और कुलदीप कुमार संयुक्त तौर पर चावल का कारोबार करते हैं। उनके कारिंदे हिम्मत कुमार के अनुसार, कुलदीप कुमार का पुत्र रमेश कुमार काकू सायं करीब 4 बजे दुकान पर बैठा था। तबीयत ठीक नहीं होने के चलते मालिक पहले ही घर चले गए थे।

3 युवकों ने वहां आकर गल्ले से पैसे निकालकर देने को कहा। हमने कहा कि उनके पास कोई पैसे नहीं है। यह सुनकर उनमें से एक युवक ने रिवाल्वर से रमेश कुमार पर 3 गोलियां चला दी, जिनमें से 2 गोलियां उसके पेट में लगीं। जब तक वह कुछ समझ पाता, वे बाहर खड़ी उनकी स्कूटी लेकर भाग गए, जिसमें चाबी लगी हुई थी। पास के दुकानदारों ने काकू को सिविल अस्पताल पहुंचाया। हालत गंभीर देख डाॅक्टरों ने उसे डीएमसी (लुधियाना) रेफर कर दिया।

थाना साउथ के इंस्पेक्टर व पुलिस पार्टी ने वारदातस्थल पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी। एक टीम सिविल अस्पताल में घायल काकू के पास पहुंची। एसएसपी हरमनबीर सिंह गिल भी मौका पर पहुंचे, जिन्होंने मीडिया को बताया कि जिले को सीलकर पुलिस पार्टियों को बदमाशों के पीछे लगा दिया है। उन्होंने इसे कोटइसे खां में कल की गोलाबारी से जोड़कर न देखने को कहा। उन्होंने कहा कि यह फिरौती, जबकि कोटइसे खां में आपसी रंजिश का मामला है। लुधियाना में काकू का ऑपरेशन हो गया है।

वह खतरे से बाहर है। पंजाब हेल्थ कॉरपोरेशन के पूर्व चेयरमैन और मोगा विधानसभा हलके के शिअद प्रभारी बरजिंदर सिंह बराड़ ने कहा कि यह बहुत निंदनीय घटना है। अफसोस के साथ कहना पड़ रहा है कि राज्य में अमन-कानून की स्थिति पतली है। पुलिस वाहनों के कागजात की तो जांच करती है, परंतु उसे यह पता नहीं चलता कि लोग असला लेकर घूम रहे हैं। यह शहर की पहली आपराधिक वारदात नहीं है। 14 जुलाई को शहर के बीचोंबीच कपड़ा व्यापारी की उसकी दुकान में घुसकर हत्या कर दी गई थी। राज्य में अमन-कानून की स्थिति को मजबूत करना चाहिए।

पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। डीएसपी सिटी बलविंदर सिंह भुल्लर ने बताया आरोपियों के खिलाफ फिरौती के लिए धमकाने व हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है। यह मामला तीन अज्ञात लोगोंं के खिलाफ दर्ज हुआ है। जिस स्कूटी से यह तीनों आरोपी भागे हैं, उसमें मालिक का मोबाइल फोन भी था। उसकी सहायता से अभी तक यह गतिविधि पता चली है कि वह धर्मकोट की ओर नहरों की तरफ भागे हैं। जल्द ही आरोपियों को काबू कर लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here