बेअंत सिंह के शहीदी दिवस पर वीरेश शांडिल्य ने लिया हत्यारों को फांसी दिलवाने का संकल्प

0
481

बठिंडा

पंजाब में आतंकवाद की आग को शांत कर और पंजाब में खालिस्तानी समर्थकों के मंसूबों को मिट्टी में मिलाने वाले पंजाब के शहीद मुख्यमंत्री सरदार बेअंत सिंह को उनके 25वें शहीदी दिवस पर आज एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष व श्री हिन्दू तख्त ने राष्ट्रीय प्रचारक वीरेश शांडिल्य कहा कि जो कुर्बानी शहीद-ए-आजम भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव, ऊधम सिंह, रामप्रसाद बिसमिल की है वही कुर्बानी पंजाब में आतंकवाद को खत्म कर अपनी शहादत देकर बेअंत सिंह ने दी । वीरेश शांडिल्य ने कहा कि जिस तरह सरदार बेअंत सिंह ने पंजाब में आतंकवाद को खत्म किया, आज सरदार बेअंत सिंह के हत्यारे बलवंत सिंह राजोआना, बब्बर खालसा प्रमुख जगतार सिंह हवारा, जगतार सिंह तारा, परमजीत सिंह भ्योरा,तारा जैसे आतंकवादी आज भी जिंदा हैं जो दुख की बात है, उनका जिंदा रहना देश की अमन-शांति के लिए बहुत बड़ा खतरा है इन्हें जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जाए ।

शांडिल्य ने कहा इसके लिए जल्द वह गृह मंत्री अमित शाह से भी मुलाकात करेंगे क्योंकि इनसे बड़ा देशद्रोही कोई नहीं हो सकता और पंजाब में खालिस्तान बनाने की साजिशें रची जा रही हैं । शांडिल्य नी बेअंत सिंह की हत्यारों को फांसी दिलवाने का भी आज संकल्प लिया l वही शांडिल्य ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भेज शहीद बेअंत सिंह की प्रतिमा संसद भवन में लगाने की मांग की व पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर को भी पत्र भेजकर पंजाब के हर जिला में बेअंत सिंह चौंक बनाने की मांग की है ।

वही शांडिल्य ने कहा आतंकी दिलावर सिंह की याद में आज श्री अकाल तख्त अमृतसर में खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे व आतंकवादी जगतार सिंह हवारा का देश की एकता और अखंडता तोड़ने वाला पत्र भी पढ़ा गया जो दुख का विषय है उन्होंने कहा इसके खिलाफ अगर कैप्टन सरकार ने समय रहते कार्यवाही नही की तो बाद में पछतावे के अलावा कुछ नही बचेगा । शांडिल्य ने कहा आज जितने भी कट्टपंथी श्री अकाल तख्त में दिलावर सिंह के लिए रखे हए अखण्ड पाठ में मौजूद थे उन्हें देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया जाए । 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here