सरकारी फ्लेक्स फाडऩे व यूनिपोल चोरी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने से कतरा रही सिटी पुलिस।

0
137

* एक रात में शहर के विभिन्न स्थानों से किए थे 6 यूनिपोल चोरी, नगर परिषद कर्मियों ने यूनिपोल से लदे वाहन के साथ चोरों को किया था काबू।
नीरज मगला बरनाला,
18 से 19 फरवरी की दरमियानी रात को नगर परिषद बरनाला की सीमा के भीतर से विभिन्न स्थानों से विज्ञापन यूनिपोल चोरी हो गए थे। जिनके खिलाफ कार्रवाई करने के लिए नगर के कार्यकारी अधिकारी ईओ ने जिला पुलिस मुखी के पास शिकायत दी है। हैरानी इस बात की है कि घटना को एक सप्ताह हो गया है लेकिन पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है।

यह बताया मामला-
एसएसपी बरनाला को पत्र भेजे पत्र द्वारा नगर परिषद के ईओ मनप्रीत सिंह ने बताया है कि चोरों ने शहर के विभिन्न स्थानों पर लगे 6 यूनिपोलों पर जड़ी विभिन्न अदारों की फ्लेक्सें फाड़ डाली थी। यहां तक कि शहर में स्थित भगवान वाल्मीकि चौक पर स्थापित यूनिपोल पर लगी हुई पंजाब सरकार का फ्लेक्स तक फाड़ दी थी। इसका खुल्लासा 19 फरवरी की सायं 7 बजे हुआ, जब सिविल अस्पताल बरनाला के सामने लगे यूनिपोल को नामधारी प्रीत आर्टस के कर्मचारी उखाड़ पीबी 10-बीक्यू/9378 नंबर के वाहन में लादने की तैयारी कर रहे थे, जिसकी सूचना पाकर घटनास्थल पर पहुंचे नगर परिषद बरनाला की विज्ञापन शाखा के कर्मचारियों ने रंगे हाथ काबू कर सिटी थाना-1 की पुलिस के हवाले कर दिया था। जबकि यूनिपोल से लदे वाहन को अपने कब्जे में ले लिया था। ईओ ने पत्र में नगर परिषद की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने, पंजाब सरकार की फ्लेक्स समेत विभिन्न संस्थानों पर लगी फ्लेक्सें फाडऩे, यूनिपोल की चोरी करने और सरकारी कर्मचारियों से दुव्र्यवहार करने वाले आरोपितों के खिलाफ संगीन धाराओं के तहत मुकद्दमा दर्ज करने को भी लिखा है।

गड़बड़ी का आशंका:-
घटना के एक सप्ताह बीतने पर भी आरोपितों के खिलाफ नगर परिषद अधिकारियों द्वारा सख्त रुख नहीं दिखाने और पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं होने से शहरवासियों को गड़बड़ी की आशंका होने लगी है। विश्वसनीय सूत्र बता रहे हैं कि नगर परिषद का विज्ञापन विभाग पिछले लंबे समय से गड़बड़ी करता आ रहा है। हालांकि शहर में विज्ञापन का ठेका भी नहीं है उसके बावजूद यूनिपोल पर विज्ञापन लटकाने वालों से मोटी रकमें वसूली जाती रही हैं। जिन राष्ट्रीय राज मार्गों पर यूनिपोल लगाने की मनाही है वहां भी गैरकानूनी यूनिपोल खड़े हैं और कानून को ठेंगा दिखा रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि सूचना अधिकार एक्ट के तहत जानकारी हासिल करने के लिए जिला के एक व्यक्ति ने जिला भर में लगे गैरकानूनी विज्ञापन यूनिपोलों की फोटोज पंजाब के मुख्यमंत्री, राज्यपाल को भेजा है।

यह कहते हैं अधिकारी:-
* पुलिस थाना सिटी-1 के प्रभारी लखविंदर सिंह का कहना है कि इस मामले की अभी जांच की जा रही है, जांच पूरी होने के बाद ही कार्रवाई की जाएगी। वाहन की रजिस्ट्रेशन कापी (आरसी) मंगवाई गई है,
* नगर परिषद के ईओ मनप्रीत सिंह का कहना है कि हमारे द्वारा पुलिस को शिकायत लिखकर दी गई है। सबूत के तौर पर गाड़ी नगर परिषद के कार्याल्य में खड़ी है। कार्रवाई करने की जिम्मेदारी पुलिस की है।
* उपमंडलाधिकारी वरजीत सिंह का कहना है कि मामला उनके ध्यान में आया है, लेकिन घटना के पूरे फैक्टस उनके पास नहीं पहुंचे। पूरी जानकारी मिलने के बाद ही कुछ किया व कहा जा सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here