कोरोना वायरस: दो संदिग्ध मरीज मुंबई के अस्पताल में निगरानी में रखे गए, विशेष वार्ड बनाया

0
846

मुंबई

चीन से भारत लौटे दो लोगों को  कोरोना वायरस की गिरफ्त में होने की संभावना के मद्देनजर यहां मेडिकल ऑब्जर्वेशन में रखा गया है। बता दें कि चीन में गंभीर रूप से फैले इस वायरस से लोग बुरी तरह प्रभावित हुए हैं और कई की मौत भी हुई है। बीएमसी के एक स्वास्थ अधिकारी ने शुक्रवार को ये जानकारी दी। चीन में ये वायरस फैलने के चलते बीएमसी ने इससे पीड़ित होने की संभावना वाले मरीजों के लिए चिंचपोकलीके कस्तूरबा अस्पताल में एक स्पेशल वार्ड का इंतजाम किया है।

बीएमसी की हेस्थ ऑफिसर पद्मजा केसकर ने कहा कि ऐसे लोगों की अलग वार्ड में जांच कर चिकित्सा की जा रही है। निगरानी में रखे गए व्यक्तियों के बारे में और विवरण का इंतजार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर डॉक्टरों को चीन से लौटने वाले यात्रियों में कोरोनरी वायरस के कोई लक्षण दिखने पर आइसोलेशन वार्ड में भेजने के लिए कहा गया हैृ।

शहर के सभी निजी डॉक्टरों को कहा गया है कि किसी के भी भीतर ये वायरस पाए जाने पर तुरंत बीएमसी को जानकारी दी जाए। कस्तूरबा अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि महाराष्ट्र सरकार की ओर से इस बारे में दिशा-निर्देश दिए गए हैं। कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह जो सामान्य जुकाम से लेकर श्वास तंत्र की गंभीर समस्या तक पैदा कर सकता है। चीन में जिस वायरस से संक्रमित होकर लोगों की जान जा रही है, वह इससे अलग किस्म का है और इसे पहले कभी नहीं देखा गया। कोरोना वायरस से संक्रमित होने पर व्यक्ति में बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, हांफना आदि लक्षण नजर आते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here